गुरुवार, 31 दिसंबर 2020

प्रयोग करें, परिणाम की चिंता नहीं - ओशो

Use-not-worried-about-the-result-Osho


प्रिय आत्मन, प्रणाम। 

        पूरी मई वाहर रहने से स्वास्थ्य पर कुछ बुरा असर हुआ। इसलिए जून में आ योजित बंबई, कलकत्ता और जयपुर के सारे कार्यक्रम स्थगित कर दिए हैं।समाधि योग पर आप प्रयोग कर रहे है यह जान कर प्रसन्नता हुई। परिणाम की नहीं, प्रयोग की चिंता करें; परिणाम तो एक दिन आ ही जाता है, वह अनुक्रम से नहीं, अनायास से आता है, ज्ञात भी नहीं पड़ता है, और उसका आगमन हो जाता है और एक क्षण में जीवन कुछ से कुछ हो जाता है। भगवान महावीर पर अभी नहीं लिखा रहा हूं। लिखने के प्रति मुझसे कोई प्रेरणा ही न हीं है। आपकी जबरदस्ती से कुछ हो सके तो बात दूसरी है। 

        शेष शूभ। 


रजनीश के प्रणाम
३ जून १९६३ प्रति : लाल सुंदरलाल, दिल्ली