बुधवार, 8 जनवरी 2014

आज खाए कल को झके ,ताको गोरख संग न रखे- ओशो सिद्धार्थ